Dussehra Shayari 2021 and Wishes | Vijaydashmi hindi shayari

हृदय से रावण जैसी बुराई का नाश हो,
और प्रभु श्रीराम का वहाँ पर वास हो।

Read more