Narazgi Shayari – अगर कोई नाराज़ है तो उसे मानाने के लिए शायरी।

रूठना मनाना तो ज़िन्दगी में चलता रहता है लेकिन अगर कोई ज़्यादा समय से रूठा हो तो ये गलत है. इसीलिए हम आपके लिए लाये है Narazgi Shayari जिसकी मदद से आप किसी भी रूठे हुए को पल में मना सकते है. 

 

क्यों नाराज़ होते हो मेरी इन नादान हरकतों से,

कुछ दिन की ज़िन्दगी है, फिर चले जाएंगे तुम्हारे इस जहाँ से

Narazgi Shayari

हमसे कोई खता हो जाए तो माफ़ करना

हम याद ना कर पाएं तो माफ़ करना

दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं

पर ये दिल ही रुक जाए तो माफ़ करना

Narazgi Shayari image

गलती तो सबसे होती है, हाँ मुझसे भी हो गयी

अब माफ़ भी कर दे मुझे, क्यों दूर इतना हो गई

एक गलती के लिए क्यों ऐसे साथ छोड़ गयी

Narazgi Shayari

तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी ना रहेगी

तुम्हारे बिना चिरागो में रौशनी न रहेगी

क्या कहे क्या गुज़रेगी इस दिल पर,

ज़िंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी ना रहेगी

Narazgi Shayari image

खता हो गयी तो फिर सजा सुना दो

दल में इतना दर्द क्यों है वजह बता दो

देर हो गई याद करने में ज़रूर,

लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो

Narazgi Shayari

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से

हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से

तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले

कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से

Narazgi Shayari image

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया

आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया

हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में

क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया

Narazgi Shayari

हम रूठे भी तो किसके बहाने रूठे

कौन है जो आएगा हमें मनाने

हो सकता है तरस आ भी जाए आपको

पर दिल कहाँ से लाये आपसे रूठ जाने के लिए

Narazgi Shayari image

माना आजकल काम देता तुझे वक्त हूँ

Mana आजकल थोड़ा सा सख्त हूँ

माना तेरा हाल नहीं पूछ पाता

पर ये तुझसे कोई चोरी नहीं है

बस ये समझ ले तेरे बिना मेरी राते पूरी नहीं है

Narazgi Shayari

तेरी मोहब्बत की तालाब थी तो हाथ फैला दिए हमने

वरना हम तो अपनी ज़िन्दगी के लिए भी दुआ नहीं मांगते

 

https://dearshayari.com/narazgi-shayari

 

कब तक रह पाओगे आखिर यूँ दूर हमसे,

मिलना पड़ेगा कभी न कभी ज़रूर हमसे

नज़रे चुराने वाले ये बेरुखी है कैसी..

कह दो अगर हुआ है कोई कसूर हमसे

kashur image

तुम हँसते हो मुझे हंसाने के लिए

Tum रोते हो मुझे रुलाने के लिए

तुम एक बार रूठ कर तो देखो

मर जाएंगे तुम्हे मनाने के लिए

Narazgi Shayari

याद रखना भी बहुत हिम्मत का काम है

क्यूंकि किसी को भुला देना आजकल बहुत आम बात है

 

कितना करीब थी तू मेरे जैसे सांसो में समायी हो,

एक दम से कैसे कह दिया कि तुम मुझे भूल जाओ

उस पल ऐसे लगा जैसे मेरी मौत आयी हो

bhul joa image

जब जब आँखें बंद होती है,

बस तू साथ होती है

तेरी यादो के तकिये पर

बस राते मेरी सोती है

अब आजा बात मान कर

याद तेरी बहुत तड़पती है

Narazgi Shayari

तू क्यों दूर है इतना मुझसे, तुझे चाहता हूँ मैं

पूरे दिल से सुन ले मेरी आरज़ू

तू ही मेरी जान है, तू ही सारा जहाँ है

 

Friends, agar aapko ye Narazgi Shayari acchi lagi to share karna na bhoole, shayad kisi ki help ho jaaye. or apni favourite shayari hame comment jarur bataye. 

 

 

Sad Shayari On Love दिल को छू लेगी ये सैड शायरी।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: