Motivational Shayari by Gulzar गुलज़ार साहब की कुछ प्यारी पांतिया।

Motivational Shayari by Gulzar गुलज़ार साहब की कुछ प्यारी पांतिया।

गुलज़ार साहब को कौन नहीं जानता, वैसे तो इन्होने कमाल की रोमांटिक शायरी लिखने में महारत हासिल की है लेकिन ये कभी कभार मोटिवेशनल शायरी भी लिखते है.

Motivational Shayari by Gulzar

और इस बार हम आपके लिए ऐसी ही motivational shayari by Gulzar लेकर आये है जिसे पढ़ कर आपको ज़िन्दगी को देखना का एक नया नजरिया मिलेगा. तो आईये पढ़ते है गुलज़ार जी की शायरी.

घुटन क्या चीज़ है ये पूछिए उस बच्चे से…

जो काम करता है “रोटी” के लिए

खिलौनों की दुकान पर

Motivational Shayari by Gulzar image

थोड़ा सा रफू करके देखिये ना…

फिर से नयी सी लगेगी

ज़िन्दगी ही तो है…

……….

एक ना एक दिन हासिल कर ही लूंगा मंजिल..

“ठोकरे” ज़हर तो नहीं जो खाकर मर जाऊंगा

Motivational Shayari by Gulzar

उम्र और ज़िन्दगी में बस फर्क इतना..

जो दोस्तों बिन बीती वो उम्र

और जो दोस्तों संग गुज़री वो ज़िन्दगी

Motivational Shayari by Gulzar

उलझने भी मीठी हो सकती है…

जलेबी इस बात की ज़िंदा मिसाल है

……….

भीड़ काफी हुआ करती थी महफ़िल में मेरी..

फिर मैं “सच” बोलता गया और लोग उठते चले गए

……….

इतना क्यों सिखाये जा रही हो ज़िन्दगी…

हमें कौन सी सदियां गुज़ारनी है यहाँ

Motivational Shayari by Gulzar

अपने हिसाब से जियो, लोगो की सोच का क्या

वो तो कंडीशन के हिसाब से बदलती रहती है

अगर चाय में मक्खी गिरे तो चाय फेंक देते है

और देसी घी में गिरे तो मक्खी को फेंक देते है

Motivational Shayari by Gulzar

फूल चाहे कितनी भी ऊंची टहनी पर लग जाए

लेकिन, मिटटी से जुड़ा रहता है तभी खिलता है

Motivational Shayari by Gulzar

कैसे कह दू कि महंगाई बहुत है,

मेरे शहर के चौराहे पर आज भी..

एक रुपये में कई कई दुआएं मिलती है

……….

मीलो का सफर.

पल में बर्बाद कर गया

उसका ये कहना…

“कहो कैसे आना हुआ”

Gulzar image

जब जब हम चुप रहकर सब बर्दाश्त कर लेते है,

तब तो दुनिया को अच्छे लगते है

पर एक आद बार भी सच्ची हकीकत बयां कर दो,

तो सबसे बुरे लगने लगते है

……….

ज़िन्दगी सारी उम्र संभालती रही दो पाँव पर

मौत ने आते ही कहा, मुझे चार कंधे चाहिए

Motivational Shayari by Gulzar

जिसकी सुबह अच्छी, उसका दिन अच्छा

जिसकी शाम अच्छी, उसकी रात अच्छी

जिसका दोस्त अच्छा, उसकी पूरी ज़िन्दगी अच्छी

best friends shayari image

ऐ बन्दे, कभी भी अपने किसी हुनर पर घमंड मत करना

क्यूंकि पत्थर जब पानी में गिरता है

तो अपने ही वजन से डूब जाता है

Friends, ye thi Motivational Shayri by Gulzar. Gulzar saahab Bharat ke kuch chuninda shayro me se ek hai. Inki ye shayri na sirf heart touching hai balki prerna ka source bhi hai.

Isliye Gulzar sir ki ye motivational shayri apne dosto ke saath Facebook ya WhatsApp par share zarur kare. or aap ko je shayari keshi lagi hame comments kar ke jarur bataye

inspirational moral stories In Hindi जिंदगी को देखने का नजरिया बदल देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: