inspirational moral stories In Hindi जिंदगी को देखने का नजरिया बदल देंगे।

inspirational moral stories जिंदगी को देखने का नजरिया बदल देंगे

जीवन के दो पहलू होते हैं सुख और दुख। ये दोनों पहलू दुनिया के हर इंसान की जिंदगी का
हिस्सा होते हैं, लेकिन हम इसे कैसे लेते हैं ये हम पर निर्भर करता है। हम और हमारे विचार
जैसे होते हैं, हमें हर चीज वैसी ही नजर आती है। Moral Story of Life In Hindi की ये
कहानी पढ़कर आपको भी अपने जीवन के लिए बहुत बड़ी सीख मिलेगी।

inspirational moral stories

inspirational moral stories images

एक गांव में एक आदमी आया। उसने अपने घोड़े को रोका और किनारे बैठे एक बूढ़े व्यक्ति से
पूछा- बाबा, ये गांव कैसा है ? मैं इस गांव में ठहरना चाहता हूं और हो सके तो यहीं बसना भी

चाहूंगा। बूढ़ा व्यक्ति पहले उस आदमी को गौर से देखता है और फिर उससे ये पूछता है कि-
मित्र, इस गांव के बारे में बताने से पहले क्या मैं तुमसे कुछ पूछ सकता हूं। उस आदमी ने
कहा- हां जरूर।

inspirational moral stories

बूढ़े व्यक्ति ने उस आदमी से पूछा- क्या तुम मुझे बता सकते हो, कि तुम जिस गांव को
छोड़कर आ रहे हो, वो गांव कैसा था ? वहां के लोग कैसे थे? उस आदमी ने बूढ़े व्यक्ति को
उत्तर देते हुए कहा-

उस गांव का नाम भी मत लीजिए। मुझे वहां के लोगों के नाम से ही नफरत
हो चुकी है। उनका नाम लेते ही मुझे गुस्सा आने लगता है। मेरा तो मन करता है कि बस मैं
उन गांववालों की हत्या कर दूं। उस गांव के लोग बहुत बुरे हैं। इतने बुरे हैं कि उतना बुरा कोई
हो ही नहीं सकता।

inspirational moral stories

उस आदमी की बात सुनने के बाद वो बूढ़ा व्यक्ति बोला- मित्र, तुम अपना ये घोड़ा लेकर यहां से चले जाओ।

inspirational moral stories image

मैं इस गांव में 50 सालों से रह रहा हूं। इस गांव के लोग भी बहुत बुरे है। तुमने
जैसा बताया, इस गांव के लोग उस गांव के लोगों से भी ज्यादा बुरे हैं। मुझे लगता है तुम्हें
आगे बढ़ना चाहिए और दूसरा कोई और गांव ढूंढना चाहिए।

inspirational moral stories

inspirational moral stories

वो आदमी अभी गया भी नहीं था
कि तभी उनके सामने एक बैलगाड़ी आ कर रुकी। बैलगाड़ी में एक आदमी अपने परिवार के
साथ आया और उसने उसी बूढ़े व्यक्ति से पूछा- बाबा, मैं इस गांव में बसने के लिए आया हूं,
इस गांव के लोग कैसे हैं ?

दूसरे शख्स की बात सुनकर बूढ़े व्यक्ति ने उससे भी वही सवाल दोहराया और पूछा कि पहले
मुझे बताओ कि तुम जिस गांव से आए हो, उस गांव के लोग कैसे हैं? उस दूसरे शख्स ने कहा-
बाबा, उस गांव के लोग बहुत ही भले आदमी हैं।

inspirational moral stories

मैं अपनी मजबूरी की वजह से उन्हें छोड़कर आया हूं। उन्हें छोड़ने के गम में मेरे और मेरी पत्नी की आंखों में अब भी आंसू हैं। बूढ़े व्यक्ति ने कहा- मैं 50 सालों से इस गांव में रह रहा हूं।

आओ इस गांव में तुम्हारा स्वागत है। इस गांव के लोग भी बहुत ही भले हैं। इस गांव के लोगों के साथ रहने के बाद तुम इन्हें कभी छोड़ कर नहीं जा सकोगे। घोड़े लेकर आया वो शख्स ये सारी बातें सुन रहा था। उसे अब बहुत कुछ समझ आ चुका था।

दोस्तों इस कहानी से हमें यही सीख मिलती है, कि हम कैसे हैं। हमारा नजरिया कैसा है किसी भी चीज को देखने का। हम अपने जीवन को जिस तरह से देखते हैं, वैसा ही पाते हैं।

अगर हम अपने जीवन को दुख से देखते हैं, तो हमें हमारा जीवन बोझिल लगता है। वहीं अगर हम अपने जीवन को आनंद से लेते हैं, तो वो हमेशा सुखद परिणाम देता है।

यह स्टोरी अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

अगर आपको भी कहानी लिखने का शौक है तो आप अपनी कहानी हमें यहां क्लिक करके भेज सकता है आप की कहानी पसंद आई तो हम आप की कहानी को अपनी साइट पर आपके नाम के साथ डालेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: